सर्च इंजन क्या है – Search Engine कैसे काम करता है हिंदी में?

यह सर्च इंजन क्या है (What is Search Engine in Hindi) और ये कैसे काम करता है. आज का समय internet का समय है. जब भी हमारे मन में कोई भी सवाल आता है तो हम उसे इन्टरनेट पर सर्च करते है. Internet से किसी भी प्रकार की जानकारी हासिल करने के लिए सर्च इंजन का प्रयोग किया जाता है. आपने इनका इस्तेमाल जरुर किया होगा. अक्सर हम अपने मोबाइल, कंप्यूटर, tablet आदि में ख़ोज इंजन का इस्तेमाल अपने सवाले के जवाब ढूढने के लिए करते है.

अपने सवालों के जवाब जानने के लिए हम Search Engine जैसेकि Google Search engine, Bing, Yahoo, Ask, DuckDuckGo आदि का प्रयोग Search करने के लिए करते है. ये सभी इंजन हमें internet से जानकारी हासिल करने में मदद करते है. इन्टरनेट पर बहुत ही ज्यादा मात्रा में जानकारी मौजूद है. पर हम जो सर्च करते है वो ही जानकारी हमें दी जाती है. आखिर यह सब कैसे होता है. इसलिए मैंने सोचा क्योंना आप सबको खोज इंजन की पूरी जानकारी दी जाए. तो चलिए शुरू करते है और जानते है कि “सर्च इंजन क्या होता है” हिंदी में.

सर्च इंजन क्या है – What is Search Engine in Hindi

Search Engine kya hai
Search Engine

सर्च इंजन एक प्रोग्राम है, जो यूजर द्वारा सर्च किये गए Phases को internet पर ढूढता है और उन शब्दों से मिलती जुलती सभी प्रकार की जानकारी को SERP ( Search Engine Result Page) पर user को देता है. लगभग सभी प्रकार के search engine WWW (World Wide Web) का प्रयोग जानकारी ढूढने के लिए करते है.

Search Engine के काम करने का तरीका थोडा जटिल है जिसे साधारण व्यक्ति के लिए समझना थोडा मुश्किल है.

हम इस article में आपको इसके बारे में बहुत ही आसान भाषा में समझाने की कोशिश करेगे.

एक वेब सर्च इंजन इन्टरनेट पर मौजूद सभी वेबसाइट को लगतार scan करता रहता है और वेबसाइट पर मौजूद सभी प्रकार की जानकारी को इकठा करके store कर लेता है. जब कोई भी user search bar में कोई भी keyword या phases को सर्च करता है तो सर्च इंजन उस keyword से मेल खाते सभी जानकारी को user को देता है. मुझे उमीद है कि आपको simple भाषा में सर्च इंजन के काम के बारे में पता लग गया होगा.

तो चलिए अब हम थोडा technically समझ लेते है कि Search Engine कैसे काम करता है.

सर्च इंजन कैसे काम करता है – How Search Engine Work in Hindi

तो दोस्तों अब आपको पता चल गया है कि सर्च इंजन क्या है. अब हम आपको वेब सर्च इंजन काम कैसे करता है या बताने वाले है. जिसके बारे में हर blogger जानना चाहता है ताकि वह Search Engine Optimization का प्रयोग करके अपने ब्लॉग को पहले पेज पर लेकर आ सकें.

सर्च इंजन कई प्रकार के होते है. जिनके काम करने का तरीका भी अलग अलग होता है. सभी Search Engine का अपना एक algorithm होता है जिसका इस्तेमाल करके वह किसी भी वेबसाइट की रैंकिंग को निर्धारित करते है. मतलब की किस Web Page को पहले पेज पर show करना है और किसी पेज को पीछें रखना है.

सभी search engines ने अपने algorithm को इस तरह से design किया होता है कि user को हमेशा best result दिया जा सकें. मतलब कि user को वो ही रिजल्ट शो हो जिसके बारे में वो जानना चाहता है. तो चलिए दोस्तों शुरू करते है और जानते है कि Search Engine कैसे काम करता है हिंदी में.

  • Crawling
  • Indexing
  • Ranking and Retrieval

1. Crawling Search Engine

Crawling एक process है जिसमें crawler, bots या spider सभी वेबसाइट पर जाकर उन्हें scan करते है और जितनी भी जानकारी वेबसाइट में होती है उसे store करते है. यह crawler किसी भी पेज को scan करते समय उस पेज में मौजूद links को crawl करकें एक से दुसरे पेज पर लगातार जाते रहते है, यह सिलसला लगातार चलता रहता है और crawler पुरे internet पर घूमते रहते है.

Google की report के मुताबक यह crawler हर second 100 से 1000 pages को crawl कर लेते है. Crawler मुख्य रूप से किसी भी webpage को crawl करते समय कुछ बातो को ध्यान में रखते है.

  • Page का title और meta tag.
  • पोस्ट का keyword कोनसा है.
  • Image कितने use किये है.
  • पोस्ट में keyword कितनी बार use किया है.
  • सभी important पेज मौजूद है.
  • वेबसाइट के कितने backlink है.

इसके इलावा और भी बहुत सारी बातो को ध्यान में रखा जाता है.

2. Indexing

Crawling के बाद का process indexing का होता है. जब crawler वेबसाइट से जानकारी इकठी कर लेते है तो उसके बाद उसे सही कर्म में index किया जाता है. यह सब मैं आपको एक उदाहरण से समझाता हू. जब हम स्कूल में पढ़ते थे, तब हम अपनी स्कूल books में किसी भी particular lesson पर जाने के लिए book के index पेज पर अपने lesson का पेज number देख कर बहुत आसानी से उस पेज पर चले जाते थे.

ठीक इसी तरीके का इस्तेमाल Search Engine करते है. सभी वेबसाइट से इकठी की गई जानकारी को ठीक कर्म में लगाकर रखा जाता है. जब कोई भी user किसी भी phases को Search bar में type करता है तो यूजर के लिए store की गई जानकारी को सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर show कर दिया जाता है.

3. Ranking and Retrieval

रैंकिंग बहुत ही खास और जटिल प्रोसेस है. जब user द्वारा Search Engine पर किसी भी प्रकार के keyword आदि को सर्च किया जाता है तो किस पेज को सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर सबसे पहले show करना है यह तय करना रैंकिंग bots का काम होता है. क्योंकि एक ही keyword पर काफी सारी वेबसाइट ने जानकारी दी होती है. इसलिए ये तय करना मुश्किल होता है कि किस वेबसाइट को सबसे पहले show करना है. इस काम को करने के लिए algorithm का प्रयोग किया जाता है.

Algorithm रैंकिंग देने के लिए 200 से ज्यादा factor को देखता है. जिनको secret रखा जाता है. अगर हम google सर्च इंजन की बात करे तो google हर साल अपने algorithm को change करता है. ताकि कोई भी person इसका गलत फ़ायदा ना उठा सके. लेकिन कुछ लोग अपनी वेबसाइट का search engine optimization करके रैंकिंग हासिल करने की कोशिश करते है. जिसमें कुछ points पर काम किया जाता है. जैसेकि,

  • कीवर्ड का प्रयोग Title, meta description, image आदि में करना.
  • Trusted website के साथ Backlink build करना.
  • Content की quality पर ध्यान देना.
  • पोस्ट को सर्च इंजन में submitted करना.
  • Social media पर पोस्ट को viral करना.
  • Website की speed को fast रखना.
  • समय समय पर अपनी पोस्ट को update करने रहना.

इसके इलावा और भी बहुत points पर काम करके रैंकिंग हासिल करने की कोशिश करते है.

सर्च इंजन के प्रकार – Types of Search Engine in Hindi

सर्च इंजन मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है:

  • Crawler Search Engine
  • Web directories

Crawler Search Engine

इस प्रकार के खोज इंजन में crawler या spider का प्रयोग किया जाता है. जो automatic सबी वेबसाइट पर जाकर उन्हें crawl करते है. ऐसे इंजन crawling, indexing, ranking & retrieval method का प्रयोग करते है. जिनके बारे में हम ने आपको बता दिया है.

इस तरह के खोज इंजन के कुछ उदाहरण:

Web directories

वेब डायरेक्ट्रीज भी एक प्रकार के search engine है. इनमें crawler का इस्तेमाल नहीं किया जाता और ना ही ये automatic किसी भी वेबसाइट को crawl करते है. इनमें वेबसाइट owner खुद अपनी वेबसाइट के लिंक को इनमें submit करते है. सभी web directories में Search bar मौजूद होता है.

जब किसी भी user को web डायरेक्ट्रीज से कोई भी जानकारी हासिल करनी होती है तो user उसे search bar में सर्च करता है और अपने सवालों के जवाब जान लेता है.

कुछ web directories के उदाहरण:

  • Spoke.com
  • Blogarama
  • Superpages
  • B2B Yellow Pages
  • Google My Business

इसके इलावा और भी बहुत सारी web directories मौजूद है. जिनका प्रयोग आप जानकारी हासिल करने के लिए कर सकते है.

Note: आज के समय में Google Search Engine का प्रयोग सबसे ज्यादा किया जाता है. क्योंकि google हमारे द्वारा सर्च किये गए keyword का बिल्कुल सही जवाब ढूढ कर हमें देता है. इसलिए आपको भी google का इस्तेमाल करना चाहिए. ताकि आपके सभी सवालों के जवाब आपको सही से मिल सके.

जरुर पढ़े: 

आज आपने क्या सिखा

मुझे पूर्ण आशा है कि आपको सर्च इंजन क्या है (What is Search Engine in Hindi) और ये कैसे काम करता है? Article पढ़ कर सर्च इंजन के बारे में पूरी जानकारी हासिल हो गई है. मैंने पूरी कोशिश करकें आपके सभी सवालों के जवाब इस पोस्ट में दिए है. अगर फिर भी आपके पास हमारे लिए कोई प्रश्न जा सुझाव है तो हमें comment जरुर करें. मेरा हर समय यही प्रयास रहता है कि मैं आपके लिए ऐसे जानकारी से भरपूर पोस्ट लिखकर लाता रहु.

मेरा आपसे निवेदन है कि आप इस पोस्ट को share जरुर करे.

आपके सहयोग की हमें बहुत जरूरत है.

यह article पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद.

1 thought on “सर्च इंजन क्या है – Search Engine कैसे काम करता है हिंदी में?”

Leave a Comment