NGO Full Form: What is an NGO (Non-Governmental Organizations)?

क्या आपको एनजीओ फुल फॉर्म इन हिंदी (NGO Full Form) के बारे में जानकारी है? आपने कभी न कभी एनजीओ के बारे में तो जरुर सुना होगा क्योंकि एनजीओ समाज के कल्याण के लिए बहुत सारे कार्य करती है. भारत में भी ऐसे बहुत सारे संगठन है जो समाज के कल्याण के लिए कार्य कर रहे है.

आजके इस लेख में हम आपको एनजीओ के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करेगे. इस लेख में आप जानेगे कि एनजीओ क्या है? और यह किस तरह के कार्य करती है. हम आपको “NGO full form in Hindi” में बतायेगे. तो चलिए शुरू करते है.

NGO Full Form (What is the full form of NGO)

NGO Full Form
NGO (Non-Governmental Organizations

The “NGO Full Form” is “Non-Governmental Organizations.” NGO 1945 में संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के साथ लोकप्रिय हुए. Non-Governmental Organizations को गैर लाभदायक संगठन के नाम से भी जाना जाता है.

NGO Full Form in Hindi

एनजीओ का फुल फॉर्म “गैर सरकारी संगठन” होता है. इसे नॉन गवर्नमेंटल आर्गेनाइजेशन भी कह सकते है.

NGO Full Form in English

The full form of NGO is “NonGovernmental Organizations”. NGO एक non-profit and non-government संगठन है. जो किसी भी तरह से किसी भी बिज़नस को प्रमोट नहीं करता.

जरुर पढ़ें: – What is the full form of WHO (World Health Organizations)?

What is an ‘NGO’?

The full form of “NGO” is “NonGovernmental Organizations. NGO एक non-profit and non-government संगठन है. जिसका किसी भी व्यवसाय से कोई भी नाता नहीं होता. एनजीओ का मुख्य उद्देश्य गरीबोँ, बजुर्गओं, बच्चों, बेसहारा लोगो, बीमारों, बेसहारा जानवरों आदि की सहायता करना होता है.

कुदरती आफ़त के समय भी एनजीओ लोगो की सहायता करने के लिए अपना एहम योगदान देती है. जैसेः खानापूर्ति, दवाईयों, एमरजेंसी मेडिकल सेवाओं, टेंट हाउस आदि मोहिया करवाती है. लगभग सभी तरह की एनजीओ को चलाने के लिए सभी पैसा दान के रूप में आता है और कुछ पैसा सरकार की तरफ से लिया जाता है.

Non-Governmental Organizations को बहुत सारे लोग Non-Profitable Organizations (NPO) के नाम से भी जानते है. दुनियाभर में बहुत सारे गैर सरकारी संगठन है जिन्होंने समाज सेवा में अपना एहम योगदान दिया है.

Types of NGO (Non-Governmental Organizations)

  • ENGO: Environmental Non-Governmental Organizations
  • BINGO: Business-Friendly international NGO
  • GONGO: Government Organized NGO
  • INGO: International Non-Governmental Organizations
  • QUANGO: Quasi-autonomous Non-Governmental Organizations
  • CSO: Civil Society Organization

NGO Procedure to Start in India

अपने भारत देश में भी बहुत सारी एनजीओ काम कर रही है. अगर आपभी समाज सेवा का कार्य करना चाहते है तो आपभी कुछ लोगो को अपने साथ मिलाकर एक NGO Registration करवा लेना चाहिए.

भारत देश में एनजीओ शुरू करने के तीन तरीकें है. जो राज्य और केंद्र सरकार के द्वारा बनाये गए है. नीचें हमने NGO Procedure to start in India के बारे में बताया है.

Trust Act: – भारत के अलग अलग राज्य में अपने अपने Trust अधिनियम होते है. जिसके तहत NGO को register किया जाता है. अगर किसी राज्य में ट्रस्ट अधिनियम नहीं है तो उस राज्य में ट्रस्ट अधिनियम 1882 लागु होता है. इस अधिनियम के तहत कम से कम दो (2) ट्रस्टीज होता जरूरी होता है.

Society Act: – अगर आप सोसाइटी एक्ट के तहत एनजीओ रजिस्ट्रेशन करवाते है तो आपको Memorandum of Association and Rules and Regulation Document की जरूरत पड़ती है.

Society act के अंतर्गत एनजीओ रजिस्ट्रेशन दो प्रकार के होती है. पहली राज्य के आधार पर और दूसरी केंद्र के आधार पर.

  1. राज्य के आधार पर एनजीओ बनाने के लिए सात (Seven) मेंबर्स की जरुर पड़ती है. जो एक राज्य और अलग अलग घर से होने चाहिए. राज्य के आधार पर रजिस्ट्रेशन करवाने वाला एनजीओ सिर्फ अपने राज्य में ही अपनी सेवा प्रदान कर सकता है.
  2. केंद्र के आधार पर एनजीओ बनाने के लिए कम से कम 11 (Eleven) Members की जरूरत होती है. जो अलग अलग राज्य से होने चाहिए. केंद्र के आधार पर रजिस्ट्रेशन करवाने वाले NGO पुरे देश में अपनी सेवा प्रदान कर सकते है.

Company Act: – इस एक्ट के तहत एनजीओ (NGO) रजिस्ट्रेशन करने के लिए कम से कम दो Director की जरूरत होती है. Company Act के तहत Memorandum of Association and Rules and Regulation Document की जरूरत भी पड़ती है.

India’s Most Popular NGOs

  • Child Rights and You (CRY)
  • Give India Foundation
  • HelpAge India
  • K C Mahindra Education Trust (Nanhi Kali)
  • LEPRA India
  • Sammaan Foundation
  • Smile Foundation
  • The Askhaya Patra Foundation
  • .a voice, an effort
  • Care India
  • Childline India Foundation

NGO Work in India (NGO के काम इन हिंदी)

Non-Governmental Organizations के द्वारा कई तरह के समाजिक कल्याण के कार्य किये जाते है. अगर आप भी किसी एनजीओ के मेम्बर है तो आपको समाजिक कल्याण के लिए कार्य करने के लिए सबसे पहले अपने इलाकें के बारे में अच्छी तरह से जानना होगा और क्या क्या समस्या है उसे जानना होगा.

उसके बाद आप एनजीओ के जरिये लोगो की मदद कर सकते है. एक NGO द्वारा किन किन समस्याओं पर काम किया जाता है उसके बारे में नीचें बताया गया है.

  • Child labour करवाने वाले लोगो के खिलाफ काम करना.
  • Human rights के लिए system के खिलाफ protest करना एनजीओ का काम है.
  • बेसहारा लोगो के लिए घरों का इंतजाम करना.
  • गरीब लोगो की मदद करना और उनको जरूरी साजोसामान मोह्या करवाना.
  • विधवाओं के लिए घरों का इंतजाम करना.
  • कुदरती आफ़त के समय लोगो की मदद करना और medical सुविधा प्रदान करना.
  • बच्चों को शिक्षा दिलाने में माता पिता की मदद करना.
  • बुखे लोगो के लिए खानापूर्ति करना और लंगर लगाना.
  • Environment को बचाने के लिए tree लगाने का काम और लोगो में जागरूकता फैलाना.

इसके इलावा और भी बहुत सारे काम है जो एनजीओ के द्वारा किये जाते है.

NGO Full Form Related FAQ

What is the full form of NGO?

The full form of “NGO” is “Non-Governmental Organizations”.

What is NGO full form in Hindi?

एनजीओ का फुल फॉर्म इन हिंदी गैर सरकारी संगठन होता है.

What is the NGO Work?

Non-Governmental Organizations द्वारा समाज कल्याण के हित में कई तरह के कार्य किये जाते है. जैसेः गरीबोँ, बजुर्गओं, बच्चों, बेसहारा लोगो, बीमारों, बेसहारा जानवरों आदि की सहायता करना, Environment की रक्षा के लिए लोगो में जागरूकता फैलाना.

What are the types of NGOs?

ENGO: Environmental NGO
BINGO: Business-Friendly international NGO
GONGO: Government Organized NGO
INGO: International Non-Governmental Organizations
QUANGO: Quasi-autonomous Non-Governmental Organizations
CSO: Civil Society Organization

आज आपने क्या सिखा

आजके इस लेख NGO Full Form में आपने Non-Governmental Organizations के बारे में सिखा है. एनजीओ का समाज के कल्याण के लिए किये जाने वाले कार्य में अहम योगदान है. एनजीओ के द्वारा किये जाने वाले कार्य के वजह से कई बेसहारा लोगो को घर नसीब हुआ है कई गरीब बच्चों को स्कूल जाने का मोका मिला है.

यहाँ पर हमने आपको भारत में चल रहे Top NGOs के बरे में भी बताया है. अगर आप भी समाज कल्याण का कार्य करना चाहते है तो आप बताये गए एनजीओ में दान दे सकते है.

NGO Full Form Related Post: –

Leave a Comment