माउस क्या है और कितने प्रकार के होते है?

क्या आप जानते है कि माउस क्या है और माउस कितने प्रकार के होते है. अगर आपने Computer पर काम किया है तो आपने माउस का इस्तेमाल जरुर किया होगा क्योंकि कीबोर्ड की तरह Mouse भी कंप्यूटर का एक input device है जिसका प्रयोग करकें हम कंप्यूटर को निर्देश देते है. क्या आप जानते है कि हिंदी में माउस का मतलब क्या है और यह कैसे काम करता है.

दोस्तों दुनिया बहुत तेजी से आगे बड रही है, हर देश नई technology को अपना रहा है या develop कर रहा. माउस में भी बहुत सारी development हुई है, आज हम जिस माउस का इस्तेमाल कर रहे है वो पहले ऐसा नहीं था. इसमें बहुत सारी खामिया थी. इसमें development किस तरह से हुईं है, आज इस article में हम आपको इसकी की पूरी जानकारी देने वाले है. तो चलिए जानते है कि “माउस क्या होता है” और माउस कितने प्रकार के होते है?

माउस क्या है – What is Mouse in Hindi

What is Mouse in HIndi
What is Mouse in Hindi

Mouse एक हार्डवेयर है, माउस को Pointing Device के नाम से भी जाना जाता है. जिसका इस्तेमाल Computer में डाटा input करने के लिए किया जाता है. Mouse के जरिये pointer को control किया जाता है जिसका इस्तेमाल files, Folder, images आदि को open, close, Drag and drop आदि करने के लिए किया जाता है.

GUI (Graphic User Interface) के आने से mouse का उपयोग बहुत ज्यादा बड गया है क्योंकि window operating system में माउस के बिना काम करना बहुत मुश्किल है. Mouse के इस्तेमाल से कंप्यूटर को चलाना आसान हो जाता है. आप बिना इसके कंप्यूटर पर काम करने की कल्पना भी नहीं कर सकते.

माउस का आविष्कार Douglas C. Engelburt ने सन 1963 में किया था. उनके द्वारा बनाया गया माउस लकड़ी का था.

एक साधारण Mouse में आमतौर पर तीन बटन होते है जिसमें एक रबर ball नीचे की तरफ लगी होती है, Mouse को फ्लैट सरफेस पर घुमाने पर रबर बॉल घुमती है जिससें pointer Computer Screen पर Move होता है, माउस पर मौजूद बटन को Right Click एवं Left click कहते है और दोनों बटन के बीच में एक wheel होता.

माउस के प्रकार – Types of Mouse in Hindi

बाज़ार में आपको बहुत तरह के Mouse मिल जाएगे, आप अपनी सुविधा के हिसाब से अपने लिए माउस को खरीद सकते है, पर जिस समय Computer Mouse का invention हुआ था तब यह ऐसा नहीं था, इसमें बहुत सारी खामिया थी, जिसे धीरे धीरे से सुधारा गया है, इस दौरान mice के कई रूप विकसित किये गए. जिनके बारे में हम आपको बताएगे.

तो चलिए शुरू करते है: –

  • Mechanical Mouse
  • Optomechanical Mouse
  • Optical Mouse
  • Wireless Mouse
  • Stylus Mouse

1. Mechanical Mouse

इस Mouse का आविष्कार Bill English ने सन 1972 में किया था. इस प्रकार के mouse में रबर बॉल का इस्तेमाल किया जाता है. जब माउस को समतल जगह पर हिलाया जाता है तो रबर बॉल अंदर लगी चकरी को घुमाती है जिससे Mechanical sensor कंप्यूटर को संकेत भेजते है और संकेतो के मुताबक pointer कंप्यूटर स्क्रीन पर मूव करता है.

Mechanical Mouse में काफी problem थी. इन्हें बार बार सही करना पड़ता था और रबर बाल कई बार अटक अटक चलती थी. जिससें काम करने में काफी मुश्किल आती थी.

2. Optomechanical Mouse

Optomechanical Mouse को मैकेनिकल माउस से अच्छा बनाया गया. इसमें मैकेनिकल सेंसर की जगह पर Optical sensor का इस्तेमाल किया गया और साथ में LED light का भी प्रयोग किया गया, यह mice मैकेनिकल mice से अच्छा काम करता थे.

3. Optical Mouse

Optical mouse बहुत advance माउस है जिनका प्रयोग आज के समय में हम अपने कंप्यूटर में करते है, इस mice में ऑप्टिकल सेंसर का प्रयोग के साथ LED light का प्रयोग किया गया है. जो बिल्कुल सही तरीके से काम करता है.

जब माउस को हिलाया जाता है तो LED light जलना शुरू हो जाती है और pointer स्क्रीन पर move करना शुरू करता है. इसमें मौजूद बटनों से हम Computer को निर्देश देते है. इन mice में advance technology का इस्तेमाल किया गया है जिस वजह से ये कम खराब होते है. इन्हें Computer से connect करने के लिए PS/2 और USB (Universal Serial Bus) port का इस्तेमाल किया जाता है.

4. Wireless Mouse

यह भी एक तरह के ऑप्टिकल माउस है. इन्हें computer से connect करने के लिए वायर का प्रयोग नहीं किया जाता. ये mice वायरलेस होते है. इन्हें कंप्यूटर से connect करने के लिए Radio frequency (RF) और Bluetooth technology का इस्तेमाल किया जाता है.

इन्हें प्रयोग करने के लिए transmitter और receiver की जरुर होता है. Transmitter पहले से ही माउस के अंदर होता है. Receiver के रूप में हमें एक USB port वाला यत्र मिलता है. जिसे Computer से Connect करना होता है.

5. Stylus Mouse

यह माउस Pen की तरह होता है. जिसका इस्तेमाल हम Touchscreen Devices पर करते है. इस तरह के mice में wheel का प्रयोग किया जाता है. जिसे screen पर चलाने से pointer या cursor कंप्यूटर पर move होता है.

माउस के उपयोग क्या है?

अब आपको माउस क्या है और इसके प्रकारों के बारे में पता लग गया है. अब हम आपको इसके उपयोग के बारे में बताएगे कि आप Mouse से क्या काम कर सकते है अपने Desktop पर.

Pointer को move करना – ये माउस का सबसे अहम function है. जिससे माउस cursor को screen पर move करता है.

Select करना – Mouse का इस्तेमाल files, text आदि को select करने के लिए किया जाता है.

Open करना – माउस के जरिये हम files, folder, icon आदि को open करने के लिए किया जाता है.

Drag and Drop – इसके इस्तेमाल से हम icon, files आदि को drag and drop बहुत आसानी से कर सकते है.

Hover – Mouse का इस्तेमाल से Object पर होवर कर सकते है, हम हम cursor को किसी भी Object के ऊपर ले जाते है तो उससे related जानकारी show होने लगती है. उदारहण, जब हम pointer को किसी link के ऊपर ले जाते है तो link से related जानकारी आपको दिखने लगती है.

Scroll – माउस के बीच लगे wheel से हम page को Scroll कर सकते है, scroll का मतलब है कि हम पेज को ऊपर नीचे कर सकते है.

Single Click – Mouse के left button को एक बार click करके file को select कर सकते है.

Double Click – left button को किसी file पर जल्दी से दो बार click करके file को open कर सकते है.

Triple Click – किसी paragraph पर  left button को जल्दी से तीन बार click करकें उसे select किया जा सकता है.

Right Click – माउस का Right button किसी file के साथ होने वाले कार्य की लिस्ट show करता है.

इसे भी पढ़े: Email क्या है Email id कैसे बनाए इन हिंदी?

माउस के भाग – Parts of Mouse in Hindi

एक Mouse को बनाने के लिए काफी तरह के पार्ट्स का प्रयोग किया जाता है. जिन की मदद से Computer माउस काम करता है. तो चलिए जानते है कि एक माउस के क्या क्या होता है?

Buttons

आज के समय में प्रयोग होने वाले सभी तरह के mice में दो बटन होता है. Left एवं Right बटन. जिसे हम left click और right click के नाम से भी जानते है. दोनों buttons का अलग अलग कार्य होता है.

Wheel

सभी तरह के mice में दोनों buttons के बीच में wheel लगा होता है, जिसका इस्तेमाल scroll करने के लिए किया जाता है.

Ball and LED

Mechanical mice में rubber ball का प्रयोग cursor को move करने के लिया किया जाता था. LED का इस्तेमाल Optical mice में किया जाता है.

Cable or Wireless Receiver

आज के समय में हम optical mice का प्रयोग करते है जिसमे दो तरह के version आते है. पहले version में माउस में USB cable होती है. जिसके माध्यम से mouse को कंप्यूटर से connect किया जाता है.

दूसरी तरह के mice में cable की जगह wireless receiver लगा होता है जिसे Computer में लगाया जाता है और transmitter पहले से ही mouse के अंदर होता है.

इसे भी पढ़े: Internet क्या है इसके फायदे और नुकसान क्या है?

माउस की परिभाषा

Mouse एक hand-held pointer device है. जिसके इस्तेमाल से user Computer screen पर files, icon, software आदि को open, close, drag and drop आदि कर सकता है. Mouse को इसका नाम इसके छोटे और चूहे जैसे आकार के कारण मिला है.

आज आपने क्या सिखा?

मुझे आशा है कि मैंने आपको माउस क्या है (What is Mouse in Hindi) और ये कितने प्रकार के होते है की पूरी जानकारी दी है और आपको माउस के उपयोग के बारे में पता लग गया होगा. मेरा आप से निवेदन है कि आप इस article को अपने दोस्तों और family member के साथ जरुर share करे ताकि उन्ह सभ को भी इसके बारे में जानकारी मिल सके.

आप मेरे इस article को social media पर जरुर share करे.

यह article पढने के लिए आपका धन्यवाद

1 thought on “माउस क्या है और कितने प्रकार के होते है?”

Leave a Comment