Insurance क्या है और कितने तरह की होती है?

Insurance क्या है और कितने तरह की होती है?

Insurance क्या है और कितने तरह की होती है? अगर आपने  कभी इन्श्योरेंस के बारे में नहीं सुना है तो आज हम आप को insurance के बारे में पूरी जानकारी देगे | इन्श्योरेंस का हमारे जीवन में बुहत ज्यादा महत्व होता है | अगर आपने कोई भी इन्श्योरेंस नहीं खरीदा है तो जरुर खरीद ले आपने अक्सर Television, Internet अदि पर इन्श्योरेंस की add देखी होगी |

इन्श्योरेंस हमारे जीवन को लाइफ में आगे आने वाली घटनाओं से सिक्योर करती है | किसी ने आने वाला कल नहीं देखा | अगर कल को हमें कुछ हो जाता है तो हमारे बाद हमारे परिवार का क्या होगा हमारे बाद हमारे परिवार को कोई मुसिबत ना आए इसलिए हमे इन्श्योरेंस पालिसी करनी चाहिए Insurance कंपनी हमारे बाद हमारे परिवार को इन्श्योरेंस के पैसे देती है जिस से उन को हमारे बाद भी कोई मुसिबत नहीं आती | हमें सिर्फ इन्श्योरेंस कंपनी के term & Condition को फॉलो करना है |

तो चलिए शुरू करते है और जानते है कि Insurance kya hai in hindi?

इन्श्योरेंस क्या है ? What is Insurance in Hindi?

Insurance kya hai in hindi
insurance in hindi

इन्श्योरेंस एक ऐसी सुविधा है जो एक Insurance कंपनी दुबारा अपने बीमा धारक को किसी भी प्रकार की बीमारी ,दुर्घटना, मृत्यु के बाद उसको या उसके परिवार को कंपनी के वादे के मुताबक दिया जाता है|

आज की दुनिया काफी तेज़ हो गई है |आज के समय में हम MACHINERY पर depend हो चुके है और इन्सान की लाइफ काफी जोखम भरी हो गई है रोड पर इतना ज्यादा ट्रैफिक होता है कि चलना मुश्किल हो जाता है ट्रैफिक के कारण pollution भी ज्यादा हो गया है और न्यू न्यू बीमारीयों के नाम सुनने को मिलते है आज के समय में इन्सान की लाइफ कम हो गई है ऐसे में इन्श्योरेंस का महत्व और भी ज्यादा हो गया है इन्श्योरेंस कंपनी हमारे बुरे टाइम में हमारा साथ देती है हमारे बाद हमारे परिवार को पैसे देती और उनका साथ देती है |

अगर हम कोई वाहन खरीदनें जाते है बाइक या कार तो उनका इन्श्योरेंस करवाना भारत सरकार ने जरूरी किया हुआ है अगर आप इन्श्योरेंस लिए बिना बाइक या कार को रोड पर चलाते है तो आप पर क़ानूनी कारवाही की जाती है जैसे के आप का चालान काट दिया जाता है

जरुर पढ़ें: –

इन्श्योरेंस के प्रकार

जीवन बीमा (Life Insurance) :-

इन्सान की जान से बढकर कुछ नहीं होता एक इन्सान पर उसके परिवार की जिम्मेदारी होती है अगर उसको कुछ भी हो जाता है तो उसका परिवार मुसीबत में आ जाता है उसके बच्चे का फ्यूचर (Future) खतरे में डल जाता है |Life Insurance एक ऐसी इन्श्योरेंस है जिसको हर इन्सान को करवाना चाहिए यह हमारे जीवन को INSURE करता है लाइफ इन्श्योरेंस प्लान के मुताबिक हमारे जीवन को INSURE करता है.

  • लाइफ इन्श्योरेंस प्लान खत्म होने के बाद बीमा धारक को बीमे के पैसे मिल जाते है.
  • जा फिर बीमा धारक की मृत्यु के बाद उसके परिवार को दे दिए जाते है |

हेल्थ इन्श्योरेंस ( Health Insurance) :-

आज के समय में बहुत सारी नई नई बीमारी आ गई है. वही हॉस्पिटल में इलाज़ का खर्चा भी बहुत ज्यादा आता है. जिसको भरना हर किसी के हाथ में नहीं है. अगर हम बीमा करवाते है तो बीमा Company हम से बीमा करने के लिए कुछ पैसे लेती है और बीमारी के समय सारा खर्च बीमा कम्पनी करती है इस लिए हेल्थ इन्श्योरेंस करवाना बहुत जरूरी हो गया है जो मुश्किल के समय हमारी सेविंग के पैसे बच सके |

व्हीकल इन्श्योरेंस ( Vehicle Insurance ) :-

अगर आप के पास कोई भी Two वीलर या Four वीलर व्हीकल है तो भारत सरकार के नियम के मुताबिक आप को व्हीकल की इन्श्योरेंस करवाना जरूरी है अगर आप इन्श्योरेंस करवाए बिना व्हीकल को रोड पर चलाते हो तो आप को जुर्माना भरना होता है रोड पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक होने के कारण एक्सीडेंट होने का खतरा बहुत होता है जिस से व्हीकल का नुकसान होता है उस नुकसान से बचने के लिए व्हीकल का इन्श्योरेंस करवाया जाता है नुकसान होने पर बीमा कम्पनी नुक्सान के पैसे देती है |

ट्रेवल इन्श्योरेंस (Travel Insurance):-

हर इन्सान अपनी लाइफ में बहुत सारा ट्रेवल करता है बहुत बार सफ़र करते समय एक्सीडेंट हो जाता है उस नुकसान से बचने के लिए ट्रेवल इन्श्योरेंस किया जाता है अगर आप ने कभी ट्रेन की टिकेट को ऑनलाइन बुक किया हो तो वहा पर ट्रेवल इन्श्योरेंस की आप्शन आती है अगर आप ने ध्यान नहीं दिया है तो अगली बार बुक करवाते टाइम जरुर देख लेना |

पर्सनल एक्सीडेंटल इन्श्योरेंस

आज के समय में रोड पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक होने के कारण एक्सीडेंट का खतरा बहुत ज्यादा हो गया है जिस के कारण जीवन काफी खतरे में आ गया है एक्सीडेंट होने पर बहुत सारा पैसा खर्च होता है उस खर्च को मैनेज करने के लिए पर्सनल एक्सीडेंटल इन्श्योरेंस करवाना चाहिये जब हम दुर्घटना योजना के तेहत कोई बीमा खरीदते है तो बीमा कंपनी दुर्घटना होने पर सारा खर्च उठाती है |

स्टॉक इन्श्योरेंस और फायर इन्श्योरेंस

अगर हम कोई बिज़नस करते है तो हमारे पास हमारा काफी सारा स्टॉक होता है. मान लिजिये हमारा कपडे का बिज़नस है और हमारे पास कपड़े का स्टॉक है उस स्टॉक को किसी दुर्घटना से बचाने के लिए स्टॉक का इन्श्योरेंस करवाया जाता है ता जो बिज़नस करने वाला नुकसान से बच सके अगर हमारे स्टॉक को आग लग जाती है तो भी फायर बीमा हमारे स्टॉक को प्रोटेक्ट करता है और बीमा कम्पनी हमे जले हुए स्टॉक के पैसे देती है |

मुझे आशा है कि आपको ये आर्टिकल “Insurance kya hai” पढ़ कर इन्श्योरेंस के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी, यह हमारी लाइफ का बहुत important हिस्सा है, हर व्यक्ति को अपनी insurance जरुर करवानी चाहियें. अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे share जरुर करे.

अगर आपका कोई प्रश्न या सुझाव है तो comment जरुर करे. हमें आपके सुझावों की जरूरत है.

यह पोस्ट पढनें के लिए आपका धन्यवाद

Leave a Comment